वाई फाई क्या होता है | वाई फाई का पूरा नाम क्या है

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका Technogold.in ब्लॉग पर दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं वाई फाई क्या होता है, वाई फाई का पूरा नाम क्या है, Wifi काम कैसे करता है और वाई फाई कितने प्रकार का होता है आजकल डिजिटल दुनिया मे WiFi का उपयोग बहुत हो रहा है वर्तमान समय में इस्तेमाल किए जाने वाले ज्यादातर Electronic Devices मे WiFi की सुविधा आने लगी है किसी भी Electronics Devices को एक दुसरे से Connect करने के लिए ज्यादातर WiFi का उपयोग हो रहा है। इस वाईफाई टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल में हमारी डिजिटल दुनिया को बदल दिया है आजकल माउस, कीबोर्ड, स्पीकर एयरफोन जैसे उपकरण को बिना तार के ही वाईफाई से कनेक्ट किया जाता रहा है अगर हमारा इंटरनेट कभी खत्म हो जाए तो हम दोस्तों से वाईफाई मांग कर हॉटस्पॉट के द्वारा अपने मोबाइल को कनेक्ट कर लेते हैं। तो चलिए आप जानते हैं वाईफाई के बारे में।

WiFi क्या है 

वाई-फाई  रेडियो तरंगों की मदद से नेटवर्क और इंटरनेट तक पहुँचने की एक युक्ति है। यह वाई-फाई एक्सेस प्वाइंट के इर्द-गिर्द मौजूद मोबाइल फोनों को वायरलैस इंटरनेट उपलब्ध कराने का काम करता है। इस तकनीक की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इसकी गति (स्पीड) सामान्य सेवा प्रदाताओं की ओर से दी जाने वाली गति से काफी तेज होती है यह तकनीक आजकल के नए स्मार्टफोन, लैपटॉप और कंप्यूटर में आसानी से पाई जाती है। एक वायरलेस (बेतार) नेटवर्क बनाने के लिए, एक वायरलेस राउटर की जरूरत पड़ती है।

WiFi का Full Form क्या है 

वाई फाई का पूरा नाम क्या है

Wifi की फुल फॉर्म “Wireless Fidelity होती है।

Wifi का मानक है IEEE  जो की Wireless LAN में इस्तेमाल होता है| यह एक ऐसी तकनीक है जिससे आप अपने अनेक उपकरणों/Devices को जोड़ सकते हो।

मुख्य तौर पर इसका इस्तेमाल Internet चलाने के लिए होता है| परन्तु आज कल इसका उपयोग घर में लगे उपकरणों जैसे की T.V., Air Conditioner, Fan इतियादी को चलाने के लिए भी किया जाता है।

आम तौर पर हम सभी किसी न किसी कंपनी जैसे की Airtel, JioFiber इत्यादि का कनेक्शन लेते है और फिर एक Wifi Device की मदद से इन्टरनेट का लुफ्त उठाते है।

हम लोग Wifi द्वारा दिए गए इन्टरनेट का इस्तेमाल अपने विभीन्न उपकरणों जैसे की Mobile, Laptop, Computer, Tablet, Smart Tv इत्यादि उपकरणों पर करते है।

WiFi in Hindi Meaning

Wifi in Hindi Meaning होता है वायरलेस फिडेलिटी.

WiFi का इतिहास (History Of Wi-Fi)

history of wifi in hindi

Commonwealth Scientific and Industrial Research Organisation (CSIRO) ने सन 1992 और 1996 में एक तरीके का Patent करवाया जो WiFi में इस्तेमाल हुआ।

802.11 Protocol का पहली बार साल 1997 में जारी किया गया था जो कि 2MB/s स्पीड देता था।

साल 1999 में इसका 802.11b में अद्यतन (Update) किया गया जो कि 11 MB/s स्पीड देता था।

साल 1999 में Wi-Fi Alliance नामक एक व्यापार संघ (Trade Association) ने WiFi का Trademark लिया और इस Tardemark के तहत बहुत सारे उत्पादों कि बिक्री करी।

WiFi का आविष्कार किसने किया था ?

वाई-फाई (Wi-Fi) का आविष्‍कार John O’Sullivan और John Deane ने सन् 1991 में किया था.

WiFi Signal कैसे काम करता है?

WiFi Signal रेडियो तरंगो पर काम करता है जिसकी Frequency 2.4 GHz और 5 GHz होती है| WiFi Signal को काम करने के लिए Sender और Receiver Devices को इन रेडियो तरंगो (Radio Waves) को भेजना और Receive करना होता है।

जैसे की FM Radio, रेडियो Waves पर काम करता है ऐसे ही Wifi भी रेडियो Waves या तरंगो पर काम करता है।

WiFi कितने प्रकार का होता है?

types of wifi in hindi

WiFi एक IEEE Standard है इसके प्रकार निम्नलिखित है।

IEEE 802.11 : इस Standard का मूल रूप साल 1997 में आया था जिसका अधतन (Update) साल 1999 में हुआ था।  इस standard में Bitrate 2 Megabits प्रति second था| यह Standard 2.4 GHz रेडियो तरंगो पर काम करता था। यह standard अब अप्रचलित हो चुका है।

IEEE 802.11b : यह standard 11 MB प्रति Second का अधिकतम डाटा रेट देता है| यह Standard भी 2.4 GHz Frequency (रेडियो तरंग ) पर काम करता है। रेडियो तरंग का यह Frequency Band इस्तेमाल करने के लिए मुफ्त (फ्री) होता है| इस Band की Frequency Microwave Oven, Bluetooth उपकरण में भी इस्तेमाल होती है| यही कारण है जिसकी वजह से Microwave Oven के पास Wifi Signal कम या बिलकुल काम नहीं करता |

IEEE 802.11a : यह Standard 54 MB प्रति second का अधिकतम डाटा रेट देता है| यह Standard 2.4 GHz की जगह 5 GHz की Frequency पर काम करता है | क्यूंकि 2.4GHz की Frequency बहुत इस्तेमाल होती है और 5 GHz की Frequency कम इस्तेमाल होती है इससे बहुत फायदा होता है परन्तु ज्यादा Frequency होने की वजह से Wavelength कम हो जाती है जिसकी वजह से Signal की रेंज कम हो जाती है|

IEEE 802.11g : यह Standard 54 MB प्रति second का अधिकतम डाटा रेट देता है| यह Standard 2.4 GHz की Frequency पर काम करता है | इसमें भी 802.11b की तरह ही Interference (दुसरे उपकरण जो इस 2.4 GHz के band में कार्य कर रहे है उनकी वजह से होने वाला Signal में दखलंदाजी या हस्तक्षेप जैसा) का सामना करना पड़ता है|

IEEE 802.11n : यह standard 54 MB प्रति second से 600 MB प्रति second तक का अधिकतम डाटा रेट देता है| इस Standard में दोनों Frequency में काम होता है 2.4 GHz और 5 GHz में 5 GHz की Frequency पर काम करना ऐच्छिक है |

IEEE 802.11af : यह Standard को “White-Fi” और “Super WiFi” के नाम से भी जाना जाता है| यह टीवी के White Space Spectrum में VHF और UHF Band में 54 से 790 MHZ की Frequency पर काम करता है|

Conclusion

दोस्तों उम्मीद है यह आर्टिकल वाई फाई का पूरा नाम क्या है जरूर पंसद आया होगा और अब आप जान ही गयें WiFi के बारे अगर आपका कोई और भी सवाल हो तो उसे नीचे कमेंट करके हमें जरूर बताएं। इसके अलावा अगर आपका दोस्त भी वाई फाई (Wi-Fi) के बारे मे जानना चाहता है तो आप इस आर्टिकल को उनके साथ भी शेयर करें ताकि ये जानकारी उसको भी मिल सके धन्यवाद।

Leave a Comment

error: Content is protected !!